होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. यूपी-गोंडा राम जानकी मंदिर के पुजारी को गोली मारी गई हालत गंभीर,लखनऊ रेफर
  2.      
  3. नोएडा-यमुना एक्सप्रेस वे दनकौर पिकअप गाड़ी का टायर चेंज कर रहे ड्राइवर और हेल्पर को पीछे से आई कार ने कुचला,दोनों की हालत गंभीर
  4.      
  5. रामनगर ,बेतालघाट ,भवाली सहित अन्य स्थानों में किए गए पुलिसकर्मियों के तबादले।
  6.      
  7. कोतवाली में तैनात कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल, महिला कांस्टेबल के हुए तबादले
  8.      
  9. नैनीताल वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसके मीणा ने दिए तबादले के आदेश।
  10.      
  11. उत्तराखंड-लालकुआं कोतवाली में तैनात कई पुलिसकर्मियों के हुए तबादले।
  12.      
 
 
आप यहां है - होम  »  कानपुर  »  लाजपत राय की पुण्यतिथि पर कांग्रेस जनों ने उनकी प्रतिमा को दूध, गंगा जल से नहलाकर किया माल्यार्पण
 
लाजपत राय की पुण्यतिथि पर कांग्रेस जनों ने उनकी प्रतिमा को दूध, गंगा जल से नहलाकर किया माल्यार्पण
Updated: 11/17/2020 6:58:11 PM Posted By- rajesh kashyap kanpur

लाजपत राय की पुण्यतिथि पर कांग्रेस जनों ने उनकी प्रतिमा को दूध, गंगा जल से नहलाकर किया माल्यार्पण
हिंदुस्तान न्यूज़ एक्सप्रेस कानपुर | महानगर कांग्रेस कमेटी एवं लाला लाजपत राय विकास समिति के संयुक्त संयोजन में के भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अग्रणी महानायक पंजाब केसरी लाला लाजपत राय की 92 वीं पुण्यतिथि पर कॉंग्रेस जनों द्वारा लाजपत नगर स्थित प्रतिमा को दूध व गंगाजल से नहला कर माल्यार्पण किया गया. यहां आयोजित पुष्पांजलि सभा में वक्ताओं ने कहा कि लाला जी महान देशभक्त, स्वाभिमानी और व्यक्तित्व के धनी महापुरुष थे. लाला जी का जन्म पंजाब के एक छोटे से गांव में राष्ट्रभक्त परिवार मे हुआ था. पेशे से वकील लाला लाजपत राय ने आर्य समाज से जुडकर शिक्षा के क्षेत्र में सक्रिय भूमिका निभाई और कांग्रेस मे शामिल होकर स्वतंत्रता के आन्दोलन मे कूद गये. लाला जी ने महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी अरविन्द घोष के सानिध्य मे कठोर जेल यातनाए सही और बालगंगाधर तिलक व विपिन चन्द्र पाल जैसे जुझारु नेताओ के साथ मिलकर गोपाल कृष्ण गोखले द्वारा प्रतिपादित उग्र आन्दोलन की मुहिम मे शामिल हो गए. गोष्ठी में कहा गया कि सन् 1907 मे रावल पिण्डी मे उथल-पुथल मचाने के आरोप मे गिरफ्तार होने पर लगभग 6 माह तक कारागार मे बन्द रहे। इतना ही नही लाला जी ने जलिया वाला बाग मे हुए नरसंहार के विरोध मे असहयोग आन्दोलन का नेतृत्व कर गिरफ्तारी भी दी। 
    सन् 1928 मे ब्रिटिश सरकार के साइमन कमीशन के खिलाफ आन्दोलनात्मक रुख अपनाने पर उनके द्वारा निकाले गये शान्ति जुलूस का नेतृत्व करने पर उन पर बर्रबरतापूर्वक लाठी चार्ज किया गया। जिसमे उनके सिर पर गम्भीर चोटे आयीं और 17 नवम्बर 1928 को उनकी मृत्यु हो गई।लाला लाजपत राय के देश के प्रति अगाध प्रेम व त्याग तपस्या को भुलाया नही जा सकता। कार्यक्रम का संयोजन व संचालन महानगर कांग्रेस कमेटी के महासचिव दीपक धवन ने किया.इस अवसर पर पूर्व विधायक  भूधर नारायन मिश्र, शंकर दत्त मिश्र,अशोक धानविक, निजामुद्दीन खां, अंबुज शुक्ला, कमल शुक्ला बेबी, कृष्णकांत अवस्थी, राकेश साहू, प्रभात मिश्रा, राजकुमार पाल, अंबरीश सक्सेना, डॉ ओ पी श्रीवास्तव, जितेन्द्र पांडे, राकेश यादव, महेंद्र मिश्रा, संदीप चौधरी आदि ने गोष्ठी में विचार व्यक्त किए और पुष्पांजलि अर्पित की |

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
नुक्कड़ नाटक के जरिए यातायात नियमों की पालन हेतु दी गई जानकारी
मेट्रो कार्य प्रगति व प्रदूषण कमी के लिए एंटी स्मॉग गन देख कमिश्नर ने जताई संतुष्ठि
दुकानदारों को मास्क लगाने के लिए किया जागरूक
एडीजी जोन ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यालय का किया औचक निरीक्षण
पुलिस फ्लेगडे के उपलक्ष्य में एडीजी जोन ने किया कार्यालय में ध्वजारोहण
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :