होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. प्रशासन ने जारी किया अलर्ट
  2.      
  3. धौली नदी में बाढ़ से हरिद्वार तक बड़ा खतरा
  4.      
  5. उत्तराखंड के चमोली जिले ग्लेशियर फटा
  6.      
  7. दिल्ली-कब तक दी जायेगी भारतियों को फ्री वैक्सीन- राहुल गांधी
  8.      
  9. दिल्ली-आईआईटी-2020 ग्लोबल समिति को आज सम्बोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी
  10.      
  11. दिल्ली-रेपो रेट तथा रिर्वस रेपो रेट में नही हुआ कोई बदलाव
  12.      
  13. दिल्ली- विरोध कर रहे किसानों को लेकर हुई हाईलेवल बैठक
  14.      
  15. दिल्ली- शंघाई सहयोग संगठन बैठक में पीएम मोदी नही होंगे शामिल
  16.      
  17. दिल्ली-अब मोबाइल पर लैंडलाइन से बात करने पर लगना होगा जीरो
  18.      
  19. पंजाब-पंजाब में कल से लगेगा रात का कफ्र्यू
  20.      
  21. उत्तर प्रदेश- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी पहुंचे
  22.      
  23. यूपी-गोंडा राम जानकी मंदिर के पुजारी को गोली मारी गई हालत गंभीर,लखनऊ रेफर
  24.      
  25. नोएडा-यमुना एक्सप्रेस वे दनकौर पिकअप गाड़ी का टायर चेंज कर रहे ड्राइवर और हेल्पर को पीछे से आई कार ने कुचला,दोनों की हालत गंभीर
  26.      
  27. रामनगर ,बेतालघाट ,भवाली सहित अन्य स्थानों में किए गए पुलिसकर्मियों के तबादले।
  28.      
  29. कोतवाली में तैनात कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल, महिला कांस्टेबल के हुए तबादले
  30.      
  31. नैनीताल वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसके मीणा ने दिए तबादले के आदेश।
  32.      
  33. उत्तराखंड-लालकुआं कोतवाली में तैनात कई पुलिसकर्मियों के हुए तबादले।
  34.      
 
 
आप यहां है - होम  »  बिज़नेस  »  विदेशी मुद्रा के साथ ही देश के स्वर्ण भंडार में बढोत्तरी
 
विदेशी मुद्रा के साथ ही देश के स्वर्ण भंडार में बढोत्तरी
Updated: 4/25/2021 2:45:40 PM By Reporter-

विदेशी मुद्रा के साथ ही देश के स्वर्ण भंडार में बढोत्तरी
हिंदुस्तान न्यूज़ एक्सप्रेस व्यापार- भारत में भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा विदेशी मुद्रा भंडार का आंकलन किया जाता है, विदेशी मुद्रा भंडार देश के रिजर्व बैंक आॅफ
इंडिया द्वारा रखी गयई धनरााशि या अन्य परिसिम्पत्तियां होती है, जिसका उपयोग आवश्यकता के अनुसार देनदारियो का भुगतान करने में किया जाता है साथ ही विदेशी मुद्रा भंडार किसी भी देश की अर्थव्यवस्था के काफी महत्वता रखता है। इसका उपयोग आयात को समर्थन देने के लिए आर्थिक संकट की स्थितियों में भी किया जाता है। भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा देश में जितना भी विदेशी मुद्रा भंडार जमा होता है,समय समय पर उसका आंकडा आईबीआई द्वारा जारी किया जाता है।  देश में विदेशी मुद्रा भंडार  के नए आंकडे भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी किऐ गये है, जिसमें देश के विदेशी मुद्रा भंडार में बढत दर्ज की गयी है साथ ही देश के स्पर्ण भंडार की कीमत में भी बढोत्तरी दर्ज की गयी है। आरबीआई द्वारा जारी ताजा आंकडो के अनुसार भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 16 अप्रैल समाप्त सप्ताह में 1.193 अरब डाॅलर से बढकर 582.406 अरब डाॅलर तक बढ गया, जबकि
16 अप्रैल को विदेशी मुद्रा भंडार 4.344 अरब डालर से बढकर 581.213 अरब डाॅलर तक पहुंच गया। वहीं समीक्षाधीन अवधि में विदेशी मुद्रा परिसंपत्तियों
के घ्ज्ञटने के कारण मुद्रा भंडार में गिरावट दर्ज की गयी है। विदेशी मुद्रा परिसंपत्तिया, कुल विदेशी मुद्रा भंडार का एक जरूरी हिस्सा मानी जाती है। बीती 29 जनवरी को समाप्त सप्ताह में मुद्रा भंडार 590.185 अरब डाॅलर के रिकाॅर्ड ऊचाई पर पहुंच गया था। अप्रैल को समाप्त समीक्षाधीन सप्तहा में विदेशी मुद्रा परिसंपत्त्यिां 1.13 अरब डालर बढकर 540.585 अरब डालर पर पहुंच गया। एफसीऐ को डाॅलर में चूंकि दर्शाया जाता है लेकिन इसमें यूरो, पौंड और येन जैसी अन्य विदेशी मुद्रा सम्पत्ति भी शमिल होती है तो वहीं भारत के गोल्ड रिजर्व की वैल्यू में भी बढत दर्ज की गयी है और गोलड रिजर्व वैल्यम 3.40 करोड डालर से बढकर 35.354 अरब डालर पर पहुंचगयी है। इंटरनेशनल माॅनेटरी फंड में देश का स्पेशल ड्राॅइंग राइटफस 60 करोड डालर बढकर 1.498 अरब डाॅलर हो गया है। वहीं आईएमएफ के पास आरक्षित मुद्रा भंडार 2.30 करोड डालर बढकर 4.969 अरब डाॅलर पर पहुंच गया है। कई लोगों इस बात से अंजार होते है कि विदेशी मुद्रा कय है। किसी भी देश की अर्थव्यवस्था के लिए विदेशी मुद्रा भंडार में बढोत्तरी अच्दी बात होती है। इसमें करंसी के तौर पर ज्यादातर डाॅलर होता है और उसके ही आधार पर दुनिया के साथ व्यापार किया जाता है। असेट्स सोने के बाद विदेशी मुद्रा सबसे बडा हिस्सा रखते है, इससे एक साल से अधिक के आयात खर्च की पूर्ति में आसानी होती है तथा वह देश जिसके पास विदेशी मुद्रा का अच्छा भंडार
 है वह विदेशाी व्यापार को आकर्षित करता है। भारत के पास विदेशी मुद्रा का यदि भंडार उपलब्ध है तो भारत सरकार सैन्य सामान की तत्काल खरीदी का निर्णय ले सकती है।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
आईबीआई की बडी कार्यवाई, लगाया दो अमेरिकी बैंकों पर रोक
डाकघर के नियमों में हुआ परिवर्तन, बैलेंस जीरो होने पर बद होगा अकाउंट
दूसरे दिन भी उत्तर प्रदेश बैंक वर्कर्स ऑर्गनाइजेशन ने भरी हुंकार
निजीकरण के विरोध में सरकारी बैंक कर्मचारियों का महाप्रदर्शन
निजीकरण के विरोध में बैंककर्मियों ने किया प्रदर्शन
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :