होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. दिनभर प्रयास के बाद 94 सड़कों को ही खोला जा सका
  2.      
  3. सड़कों की खोलने का लगातार प्रयास जारी
  4.      
  5. अलग अलग जिलों में बंद हुई हैं सड़कें
  6.      
  7. भारी बारिश से राज्य की 194 सड़कें बंद
  8.      
  9. उत्तराखंड में बारिश ने बढ़ाई मुश्किलें
  10.      
  11. 1 सिंम्बर से प्रदेशभर में निकाली जाएगी सैनिक सम्मान यात्रा,
  12.      
  13. सैनिकों के बच्चो के लिए हल्द्वानी में खोलेंगे जाएंगे छात्रावास
  14.      
  15. 8 हजार से बढाकर की गई 10 हजार रु पेंशन
  16.      
  17. सैकेंड वर्ल्ड वॉर की विडोज की बढ़ाई गई पेंशन
  18.      
  19. उत्तराखंड-देहरादून शौर्य दिवस पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की बड़ी घोषणा
  20.      
  21. सदर कोतवाली के हरदोई तिराहा के पास का मामला ।
  22.      
  23. कड़ी मशक्कत के बाद दमकल ने आग पर पाया काबू।
  24.      
  25. घायलों को जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती ।
  26.      
  27. आग में झुलसने से तीन मजदूर हुए घायल ।
  28.      
  29. उत्तर प्रदेश-कन्नौज अगरबत्ती फैक्ट्री में विस्फोट के साथ लगी भीषण आग ।
  30.      
  31. अपनी कार से नैनीताल घूमने आये थे पति पत्नी
  32.      
  33. हरियाणा गुड़गांव का रहने वाला है 55 वर्षीय हनुमंत तलवार
  34.      
  35. कार में पति पत्नी थे सवार, पत्नी को अस्पताल में कराया गया भर्ती
  36.      
  37. गाड़ी काटकर पर्यटक की पत्नी को निकाला बाहर
  38.      
  39. उत्तराखंड-नैनीताल कार पर बोल्डर गिरने से पर्यटक की मौत
  40.      
 
 
आप यहां है - होम  »  आध्यात्म  »  रविवार को सूर्य देव की पूजा करने से मिलेगी मनचाही सफलता...
 
रविवार को सूर्य देव की पूजा करने से मिलेगी मनचाही सफलता...
Updated: 6/27/2021 2:05:54 PM By Reporter-

रविवार को सूर्य देव की पूजा करने से मिलेगी मनचाही सफलता...
हिंदुस्तान्यूज़ एक्सप्रेस 
सूर्य और चंद्र इस पृथ्वी के साक्षात देवता हैं जो हमें प्रत्यक्ष स्वरूप में दिखाई देते हैं। वेदों में सूर्य को जगत की आत्मा कहा गया है। सूर्य से ही इस पृथ्वी पर जीवन है। वैदिक काल से ही भारत में सूर्योपासना का प्रचलन रहा है। पुराणों में सूर्य की उत्पत्ति, प्रभावस्तुति, मन्त्र इत्यादि विस्तार से मिलते हैं। ज्योतिष शास्त्र में नवग्रहों में सूर्य को राजा का पद प्राप्त है। हिंदू धर्म में सूर्य की पूजा की परंपरा काफी पुरानी है।
वैसे तो रोजाना ही ज्यादातर लोग स्नान करने के बाद सूर्य को अर्घ्य अर्पित करते हैं लेकिन रविवार को सूर्य देवता का दिन माना जाता है। इसका अर्थ यह है कि रविवार को विशेष रुप से सूर्यदेव की पूजा की जाती है।
पौराणिक धार्मिक ग्रंथों में भगवान सूर्य के अर्घ्यदान की विशेष महत्ता बताई गई है। प्रतिदिन प्रात:काल में तांबे के लोटे में जल लेकर और उसमें लाल फूल एवं चावल डालकर प्रसन्न मन से सूर्य मंत्र का जाप करते हुए भगवान सूर्य को अर्घ्य देना चाहिए। अर्घ्यदान से प्रसन्न होकर भगवान ‍सूर्य आयु, आरोग्य, धन, धान्य, पुत्र, मित्र, तेज, यश, विद्या, वैभव और सौभाग्य को प्रदान करते हैं।
रविवार का व्रत कब शुरू करें
• आमतौर पर रविवार का व्रत आप वर्ष के किसी भी माह से प्रारंभ कर सकते हैं लेकिन इतना ध्यान रखें कि किसी भी माह के शुक्ल पक्ष के पहले रविवार से ही अपना व्रत शुरू करें।
• रविवार का व्रत शुरू करने के बाद कम से कम एक वर्ष या पांच वर्ष बाद ही इसका समापन करना चाहिए।
• रविवार का व्रत प्रारंभ करने से पहले सूर्य की पूजा के लिए आवश्यक सामग्री जैसे गुलाल, लाल चंदन, कंडेल का फूल, लाल वस्त्र और गुड़ इकट्ठा कर लें।
• रविवार का व्रत रखें तो सूरज डूबने से पहले की सूर्य देव की पूजा कर लें और किसी एक ही पहर में भोजन करें।
रविवार को सूर्यदेव की पूजा करने की विधि:-
1. सुबह जल्दी उठकर नित्यक्रिया के बाद स्नान करें और लाल वस्त्र धारण करके अपने माथे पर लाल चंदन का तिलक लगाएं।
2. इसके बाद तांबे के कलश में जल भरें और उसमें लाल फूल, रोली और अक्षत डालकर ॐ ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय नम: मंत्र का जाप करते हुए सूर्य को अर्घ्य चढ़ाएं।
3. शाम को सूर्यास्त से पहले गुड़ का हलवा बनाकर सूर्य देवता को चढ़ाएं और इसे प्रसाद के रूप में बांटें।
4. अगर संभव हो तो सूर्य देव की पूजा करने के बाद ब्राह्मणों को भोजन कराएं और दान दें।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
बम-बम भोले के साथ भक्तो ने किया बाबा के दर्शन
“सावन प्रारम्भ विशेष : शिव का प्रिय बिल्वपत्र”
विदाई रथयात्रा में जगन्नाथ जी के भक्तो ने किये दर्शन
2100 बिस्किटों से भूतेश्वर महादेव का किया श्रृंगार
भगवान जगन्नाथ हुए स्वस्थ,भक्तों ने किया दर्शन
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :