होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. इटावा से एक दर्जन से अधिक संख्या में कन्नौज पहुंचे अधिकारी।
  2.      
  3. कागजों की छानबीन में जुटी जी एस टी की टीम।
  4.      
  5. तीन गाड़ियों से इत्र व्यापारी के घर पहुंची टीम।
  6.      
  7. कन्नौज-यूपी जी एस टी की टीम ने इत्र व्यापारी के घर पर मारा छापा
  8.      
 
 
आप यहां है - होम  »  राजनीति  »  बीजेपी सरकार में ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर बड़ा भ्रष्टाचार हुआ:अखिलेश
 
बीजेपी सरकार में ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर बड़ा भ्रष्टाचार हुआ:अखिलेश
Updated: 7/26/2022 10:15:00 PM By Reporter- prince srivastav kannauj

बीजेपी सरकार में ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर बड़ा भ्रष्टाचार हुआ:अखिलेश
- सपा शासन मे बनी विशिष्ट मंडी, मेडिकल कालेज, इंजीनियरिंग कालेज जैसी महत्वकाक्षी परियोजनाओं का भाजपा सरकार ने किया बंटाधार
कन्नौज ब्यूरो पवन श्रीवास्तव के साथ प्रिंस श्रीवास्तव
हिंदुस्तान न्यूज एक्सप्रेस कन्नौज संवाददाता। जिला मुख्यालय पहुंचे समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा है कि बीजेपी सरकार में ट्रांसफर-पोस्टिंग के लिए बड़ा भ्रष्टाचार हुआ है।सरकार के ही लोग सवाल उठा रहे हैं।उन्होंने कहा कि नमामि गंगे विभाग के मंत्री खुद को अपमानित महसूस कर रहे हैं।भाजपा सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा कि यूपी में पहली ऐसी सरकार बनी है,जिस पर विपक्ष नहीं,बल्कि उसी सरकार के मंत्री भ्रष्टाचार के आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने डिप्टी सीएम बृजेश पाठक का नाम लिए बिना कहा कि हाल ही में यूपी के डिप्टी सीएम ने अपने ही मुख्य सचिव पर ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। नमामि गंगे परियोजना में भ्रष्टाचार को लेकर सरकार एक और मंत्री ने बवाल खडा कर दिया था।जिससे पूरे यूपी को सरकार के भ्रष्टाचार की कहानी पता चल गई।मंगलवार की दोपहर जिला मुख्यालय स्थित समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री व सपा मुखिया अखिलेश यादव ने पत्रकारों से मुखातिब होते हुए कहा कि गंगा साफ नहीं हुई, डीजल, पेट्रोल महंगा हो गया।प्रदेश सरकार की सहमति पर ही दूध, दही व सूजी पर जीएसटी लग गया है।अखिलेश ने छिबरामऊ विधायक का नाम लिए बगैर कहा कि “पिछले कार्यकाल में भाजपा ने कन्नौज जिले से एक विधायक को मंत्री बनाया था, लेकिन फिर भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद उन्हें मंत्री पद से हटा दिया।अखिलेश यादव ने कहा, “समाजवादी पार्टी की सरकार में उमर्दा ब्लाक क्षेत्र के फकीरेपुरवा गांव में सबसे बड़ा सोलर प्लांट लगवाया गया था।इसका उद्घाटन पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ने किया था।अब तक आसपास के गांव वालों को उस सोलर प्लांट से फ्री में बिजली मिल रही थी। लेकिन भाजपा की सरकार आने के बाद से सोलर प्लांट ठप हो गया।अब सरकार उस सोलर प्लांट का लाभ ग्रामीणों को देने के एवज में उनसे वसूली की योजना बना रही है।उन्होने कहा कि सरकार ने आटा चक्की और ट्यूबवेल वालों से 1000 रुपए प्रति महीने और घरेलू कनेक्शन वाले ग्रामीणों से 300 रुपए प्रति महीने वसूली कराने की योजना बनाई है।
इससे जिले के अति पिछड़े क्षेत्र के ग्रामीणों को मुसीबतों का सामना करना पड़ेगा।पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, “भाजपा ने चुनाव के वक्त जनता से फ्री बिजली देने का वायदा किया था,लेकिन सरकार बनते ही फ्री बिजली के वायदे को भुला दिया गया। जनता को मंहगी बिजली का तोहफा सरकार ने थमा दिया।उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि बिजली महंगी करने के लिए सरकार ने जानबूझ कर कोयले की किल्लत का ने मुद्दा उछलवाया था, ताकि बिजली के दाम बढ़ाएं जा सकें।अभी हाल ही में तालग्राम में हुई उपद्रव की घटना को भाजपा की साजिश बताते हुए पूर्व मुख्यमन्त्री ने कहा कि जो भी उपद्रव हुआ, वह भाजपा की सोची-समझी साजिश थी।भाजपा ने जिले में कोई विकास कार्य तो कराया नहीं, बल्कि सपा शासन में विशिष्ट मंडी,परफ्यूम पार्क,मेडिकल कालेज,इंजीनियरिंग कालेज जैसी महत्वकाक्षी परियोजनाओं का भी बंटाधार कर दिया। पूर्व मुख्यमन्त्री ने ईडी और सीबीआई को भाजपा सरकार का हथियार बताते हुए कहा कि ईडी और सीबीआई को हथियार की तरह केन्द्र सरकार ने इस्तेमाल करना शुरू कर दिया।यही वजह है कि भाजपा नेताओं को छोड़कर बाकी हर दल के नेताओं के पास ईडी और सीबीआई के समन पहुंचने लग गए हैं।प्रदेश को सूखा ग्रस्त घोषित करने के सवाल पर कहा कि भाजपा सरकार के एक मंत्री ने कृत्रिम बारिश कराने की बात कही थी, अब वह कृत्रिम बारिश कराएं।परिषदीय स्कूलों में बच्चों को अब तक किताबें न मिलने पर कहा कि यह सरकार बच्चों को कुछ नहीं देंगी। पिछले साल भी किताबें नहीं मिलीं थीं। बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस वे पर हुये गड्ढों को लेकर भी अखिलेश यादव ने पीएम और सीएम पर निशाना साधा।उन्होने सपा सरकार में हुये निर्माण कार्यो का बजट रोकने का आरोप भी भाजपा सरकार पर लगाया है। इससे पूर्व सपा मुखिया पार्टी के नेताओं से मिले।उन्होने बन्द कमरे में स्थानीय नेताओं से बात की और उनकी समस्याओं को भी सुना।उन्होने कार्यकर्ताओं से कहा कि आपसी मतभेद भुला कर एकजुटता के साथ काम करने की जरूरत है।उन्होने कहा कि ग्रामीणों और महिलाओं को बड़ी संख्या में सपा से जोड़ने के लिए पार्टी जल्द ही सदस्यता अभियान चलाएगी।इस मौके पर पूर्व विधायक अनिल दोहरे, पूर्व विधायक अरविंद यादव,पूर्व ब्लाक प्रमुख नवाब सिंह यादव, जयकुमार तिवारी,जिलाध्यक्ष कलीम खान, राजू यादव, भोले कुरैशी, पवन श्रीवास्तव,अनिल पाल,रामवीर कठेरिया, कल्पना समेत  मौजूद रहे।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
भाजपा ज्यादा ताकतवर हुई तो छिन जाएगा वोट का अधिकार:अखिलेश यादव
बढ़ती महंगाई-बेरोजगारी के विरोध में कांग्रेस का हल्ला बोल
देशव्यापी विरोध प्रदर्शन का महाउद्घोष पर कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार
तापोषी बनी नरेन्द्र मोदी सेना की प्रदेश अध्यक्ष
मेरा बूथ सबसे मजबूत की दिशा पर करें कार्यःमानवेंद्र सिंह
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :