होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. इटावा से एक दर्जन से अधिक संख्या में कन्नौज पहुंचे अधिकारी।
  2.      
  3. कागजों की छानबीन में जुटी जी एस टी की टीम।
  4.      
  5. तीन गाड़ियों से इत्र व्यापारी के घर पहुंची टीम।
  6.      
  7. कन्नौज-यूपी जी एस टी की टीम ने इत्र व्यापारी के घर पर मारा छापा
  8.      
 
 
आप यहां है - होम  »  आध्यात्म  »  सावन की शिवरात्रि पर भक्तों ने शिव मंदिर में की पूजा
 
सावन की शिवरात्रि पर भक्तों ने शिव मंदिर में की पूजा
Updated: 7/26/2022 10:24:00 PM By Reporter- alok prajapati kannauj

सावन की शिवरात्रि पर भक्तों ने शिव मंदिर में की पूजा
 कन्नौज ब्यूरो पवन श्रीवास्तव के साथ आलोक प्रजापति
हिंदुस्तान न्यूज एक्सप्रेस कन्नौज संवाददाता।सावन माह की शिवरात्रि पर मंगलवार को भक्तों ने शहर के प्रमुख बाबा गौरीशंकर मंदिर के अलावा चौधरियापुर स्थित बाबा विश्वनाथ मंदिर, चौधरी सराय स्थित बाबा मनकामेश्वर मंदिर, त्रिलोकी नाथ मंदिर, चिन्तामणि मंदिर, मुक्तेेश्वर मंदिर,जलालाबाद क्षेत्र के प्राचीन बाबा बर्फानी मंदिर में पूजा-अर्चना की।शिव मंदिरों में कपाट भक्तों के लिए सुबह से खुला दिया गए।धार्मिक दृष्टि से हर माह शिवरात्रि आती है मगर सावन व फागुन मास की शिवरात्रि का विशेष महत्व होता है।यही कारण रहा कि कन्नौज में हजारों भक्तों ने भगवान भोले का जलाभिषेक किया।जो सावन के सोमवार का व्रत रख रहे हैं उनके लिए यह दिन काफी विशेष महत्व रखता है।पंडित आमोद दुबे ने बताया कि सुबह 5.40 से 7.52 बजे के बीच का समय जलाभिषेक के लिए सबसे उत्तम रहा। यही कारण रही कि भक्तों ने इसी अवधि में सबसे अधिक पूजा-अर्चना की।शाम को भी कई भक्तों ने जलाभिषेक किया। श्रद्धालु रुचि श्रीवास्तव का कहना है कि वह पिछले 11 साल से सावन के सोमवार का व्रत रखती हैं। इससे उन्हें मानसिक संतुष्टि मिलती है। हर साल सावन की शिवरात्रि को वह मंदिर में भगवान शिव का जलाभिषेक करती थीं।श्रद्धालु देर रात भारी बारिश होने के बाबजूद भी सिद्धपीठ बाबा गौरीशंकर मंदिर में दर्शन को डटे रहे।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
रक्षा बंधन के शुभ मूहुर्त को लेकर काफी अटकलें, 12 को शुभ मुहुर्त
पुष्प वर्षा के बीच नगर भ्रमण पर निकले बाबा गौरीशंकर
सावन के अन्तिम सोमवार पर हुई गंगा महाआरती
नगर भ्रमण पर निकलेंगे बाबा गौरीशंकर
युग परिवर्तन के लिए पेड़ पहाड़ नहीं बल्कि मानव के ह्रदय को बदलने की जरुरत
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :