होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. दिनभर प्रयास के बाद 94 सड़कों को ही खोला जा सका
  2.      
  3. सड़कों की खोलने का लगातार प्रयास जारी
  4.      
  5. अलग अलग जिलों में बंद हुई हैं सड़कें
  6.      
  7. भारी बारिश से राज्य की 194 सड़कें बंद
  8.      
  9. उत्तराखंड में बारिश ने बढ़ाई मुश्किलें
  10.      
  11. 1 सिंम्बर से प्रदेशभर में निकाली जाएगी सैनिक सम्मान यात्रा,
  12.      
  13. सैनिकों के बच्चो के लिए हल्द्वानी में खोलेंगे जाएंगे छात्रावास
  14.      
  15. 8 हजार से बढाकर की गई 10 हजार रु पेंशन
  16.      
  17. सैकेंड वर्ल्ड वॉर की विडोज की बढ़ाई गई पेंशन
  18.      
  19. उत्तराखंड-देहरादून शौर्य दिवस पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की बड़ी घोषणा
  20.      
  21. सदर कोतवाली के हरदोई तिराहा के पास का मामला ।
  22.      
  23. कड़ी मशक्कत के बाद दमकल ने आग पर पाया काबू।
  24.      
  25. घायलों को जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती ।
  26.      
  27. आग में झुलसने से तीन मजदूर हुए घायल ।
  28.      
  29. उत्तर प्रदेश-कन्नौज अगरबत्ती फैक्ट्री में विस्फोट के साथ लगी भीषण आग ।
  30.      
  31. अपनी कार से नैनीताल घूमने आये थे पति पत्नी
  32.      
  33. हरियाणा गुड़गांव का रहने वाला है 55 वर्षीय हनुमंत तलवार
  34.      
  35. कार में पति पत्नी थे सवार, पत्नी को अस्पताल में कराया गया भर्ती
  36.      
  37. गाड़ी काटकर पर्यटक की पत्नी को निकाला बाहर
  38.      
  39. उत्तराखंड-नैनीताल कार पर बोल्डर गिरने से पर्यटक की मौत
  40.      
 
 
आप यहां है - होम  »  अपना प्रदेश  »  गौ आश्रय केंद्र की गायें गोबर पानी और कीचड़ में रहने को मजबूर
 
गौ आश्रय केंद्र की गायें गोबर पानी और कीचड़ में रहने को मजबूर
Updated: 7/20/2021 11:11:44 PM By Reporter- praduman panday

गौ आश्रय केंद्र की गायें गोबर पानी और कीचड़ में रहने को मजबूर
हिंदुस्तान न्यूज़ एक्सप्रेस जक्खिनी नगर निगम वाराणसी द्वारा संचालित गौ आश्रय केंद्र शाहंशाहपुर की गायें कीचड़ गोबर और पानी में रहने को विवश है। यहां पर छुट्टा पशुओं को शहर से पकड़ कर लाकर रखा जाता है। पशुओं के लिए कई शेड बनाए गए है। शेड के बाहर कीचड़ गोबर और पानी भरा हुआ है ढेर सारे पशु इसी में रहने को मजबूर हैं। पशुओं का यह फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। बताया जाता है कि यहां पर इन पशुओं के लिए भारी क्षेत्रफल में भूमि अधिग्रहित की गई थी। लेकिन उसमें आधे से अधिक गोबर से गैस बनाने के लिए देश की एक कंपनी को दे दिया गया है। जिससे भूमि आधी रह गई है।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
भाजपा कार्यकर्ता जन जन तक पहुंचाए सरकार की योजनाएं - सलिल विश्नोई
दहेज प्रताणना, अप्राकृतिक दुष्कर्म के मामले मे मिली अग्रिम जमानत
एयर इंडिया की विमान से मुंबई से वाराणसी लाया गया वैक्सीन
ब्यापारियो का हित सिर्फ भाजपा सरकार मे है
भगवान के प्रगट होने के अनेक कारण हैं
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :