होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. यूपी- कन्नौज स्वास्थ्य केंद्र की बदहाली को लेकर सपा का प्रदर्शन। सपा नेता नवाब सिंह यादव की अगुवाई में पीएचसी परिसर में ग्रामीणों ने किया जोरदार प्रदर्शन। सपा नेता बोले बद से बदतर हैं सदर के तिलसरा पट्टी की पीएचसी का हाल। जल्द सुधार न होने पर बड़े आंदोलन व सीएमओ ऑफिस घेरने की दी चेतावनी।
  2.      
  3. यूपी- कन्नौज फेसबुक पर बुअा-बबुआ नाम से पेज बनाकर पूर्व सीएम पर की अभद्र टिप्पणी, फेसबुक संस्थापक मार्क जुकरबर्ग समेत 49 के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज, अखिलेश यादव का कार्टून डालकर की गई अभद्र टिप्पणी, ठठिया के सरहटी गांव निवासी अंकित यादव ने दर्ज कराई रिपोर्ट, पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर दर्ज की रिपोर्ट, जांच में जुटी पुलिस
  4.      
  5. स्टाफ की सर्तकता से कटिहार जा रही आम्रपाली एक्सप्रेस मे फर्जी टीटीई दबोचा गया
  6.      
  7. यूपी- कानपुर सेंट्रल पर फर्जी टीटीई दबोचा गया
  8.      
  9. यूपी- कन्नौज उड़नखटोले से दुल्हन लेने पहुंचा दूल्हा। मैनपुरी के करहल का ज्वैलर्स हैलीकॉप्टर लेकर पहुंचा दुल्हन लेने। सदर के बोर्डिंग ग्राउंड पर हैलीकॉप्टर देखने वालों की उमड़ी भीड़। उड़नखटोले से दुल्हन की विदाई की जिले में बनी चर्चा का विषय।
  10.      
  11. यूपी- कन्नौज मेड विवाद को लेकर 2 पक्षो में खूनी संघर्ष, मारपीट में 1 की मौत 2 गंभीर घायल, घटना स्थल पर पहुंचे एसपी प्रशांत वर्मा, गुरसहायगंज के बल्लुपुरवा गांव का मामला।
  12.      
 
 
आप यहां है - होम  »  देश/विदेश  »  राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों ने पीएम से की भेंट
 
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों ने पीएम से की भेंट
Updated: 11/11/2021 8:57:01 AM By Reporter-

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों ने पीएम से की भेंट
हिंदुस्तान न्यूज़ एक्सप्रेस नई दिल्ली। अफगानिस्तान को लेकर क्षेत्रीय सुरक्षा वार्ता के लिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली  में जुटे आठ देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों ने बुधवार को पीएम मोदी  से मुलाकात की है। पीएम नरेंद्र मोदी ने सुरक्षा सलाहकारों से मुलाकात कर कई बिंदुओं पर सुझाव दिए। उन्होंने व्यक्त की कि क्षेत्रीय सुरक्षा वार्ता मध्य एशिया की संयम और प्रगतिशील संस्कृति की परंपराओं और प्रवृत्तियों को पुनर्जीवित करने के लिए काम करेगी।पीएम मोदी ने कोरोना महामारी  से उत्पन्न चुनौतियों के बावजूद दिल्ली सुरक्षा वार्ता में वरिष्ठ गणमान्य व्यक्तियों की भागीदारी की सराहना की है। उन्होंने चार पहलुओं पर जोर दिया कि अफगानिस्तान के संदर्भ में इस क्षेत्र के देशों को ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता होगी: एक समावेशी शासन की आवश्यकता; आतंकवादी समूहों द्वारा अफगान क्षेत्र का उपयोग किए जाने के बारे में शून्य-सहिष्णुता का रुख; अफगानिस्तान से मादक द्रव्यों और हथियारों की तस्करी का मुकाबला करने की रणनीति; और अफगानिस्तान में तेजी से बढ़ रहे गंभीर मानवीय संकट से उबारने के लिए प्रयास।
बुधवार को दिल्ली में 8 देशों के नेशनल सिक्योरिटी एडवायजर (NSA) की बैठक हुई। मीटिंग की अध्यक्षता भारत के सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने किया। इसके मीटिंग के बाद सभी देशों के सुरक्षा सलाहकारों ने सामूहिक रूप से पीएम मोदी से जाकर मुलाकात की। एनएसए बैठक में पाकिस्तान और चीन ने शामिल होने से मना कर दिया था। मीटिंग में रूस, ईरान, उज़्बेकिस्तान, कजाखिस्तान, किर्गिस्तान ताजिकिस्तान और तुर्कमेनिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शामिल हुए। मीटिंग में तालिबान को मान्यता देने या न देने पर भी विचार हुआ। उज्बेकिस्तान और भारत ने तय किया कि तालिबान को मान्यता के लिए अफगानिस्तान के नागरिकों की मान्यता का भरोसा जीतना होगा। कजाकिस्तान की NSA के अध्यक्ष करीम मासीवोम ने कहा कि हम अफगानिस्तान की मौजूदा स्थिति को लेकर चिंतित हैं। अफगानों की सामाजिक अंत आर्थिक स्थिति बिगड़ रही है और देश मानवीय संकट का सामना कर रहा है। मानवीय सहायता बढ़ाने की आवश्यकता है।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
वित्त मंत्री ने किया आयकर विभाग के नवनिर्मित कार्यालय का उद्घाटन
2024 के अंत तक 6 g टेक्नोलॉजी का स्वदेशी रुप से करेगा विकास : संचार मंत्री
पीएम से मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ममता ने त्रिपुरा हिंसा का उठाया मुद्दा
झांसी- महोबा को पीएम देंगे 6350 करोड़ की सौगात
आतंकियों के साथ मेलजोल पर सुप्रीम कोर्ट ने पाकिस्तान पीएम को लगाई लताड़
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :