होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. इटावा से एक दर्जन से अधिक संख्या में कन्नौज पहुंचे अधिकारी।
  2.      
  3. कागजों की छानबीन में जुटी जी एस टी की टीम।
  4.      
  5. तीन गाड़ियों से इत्र व्यापारी के घर पहुंची टीम।
  6.      
  7. कन्नौज-यूपी जी एस टी की टीम ने इत्र व्यापारी के घर पर मारा छापा
  8.      
 
 
आप यहां है - होम  »  स्वास्थ्य  »  आयुक्त ने चिकित्सा दिवस पर हैलट का दौरा कर इमरजेंसी व सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का लिया जायजा
 
आयुक्त ने चिकित्सा दिवस पर हैलट का दौरा कर इमरजेंसी व सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का लिया जायजा
Updated: 7/2/2022 1:52:00 PM By Reporter- rajesh kashyap kanpur

आयुक्त ने चिकित्सा दिवस पर हैलट का दौरा कर इमरजेंसी व सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का लिया जायजा।
U-डिस्चार्ज रोगियों की लिखित सेवा गुणवत्ता प्रतिक्रिया पर एक मोबाइल ऐप बनाने के दिये निर्देश।
हिंदुस्तान न्यूज़ एक्सप्रेस कानपुर। राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस आयुक्त डॉ. राजशेखर ने जीएसवीएम कॉलेज की आपातकालीन इकाई का दौरा कर सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के कार्यों की समीक्षा की।
आयुक्त ने आपातकालीन इकाई रोगियों, परिचारकों और डॉक्टरों के साथ बातचीत की।पिछले दौरे की तुलना में आपातकालीन इकाई की स्थिति में सुधारी मिली। एचडी सीसीटीवी भी लगाए गए हैं और इसकी निगरानी प्रभारी अधिकारी और मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य द्वारा की जा रही है।आयुक्त ने सभी डॉक्टरों, वरिष्ठ निवासियों, कनिष्ठ निवासियों, इंटर्नशिप छात्रों और सभी पैरामेडिक्स को बधाई दी बेहतर सेवा गुणवत्ता और समय पर इलाज सुनिश्चित करने के लिए, आयुक्त ने प्राचार्य को एक सरल प्रारूप तैयार करने और अस्पताल से छुट्टी मिलने के दौरान सभी रोगियों/ परिचारकों की लिखित प्रतिक्रिया व सेवा गुणवत्ता प्रतिक्रिया के लिए एक मोबाइल ऐप बनाना भी सुविधाजनक होगा, ताकि रोगी और परिचारक अपनी सुविधा के अनुसार प्रासंगिक विवरण के साथ ऐप में सरल प्रारूप पर अपनी प्रतिक्रिया दे सकें।जिससे बेहतर सुधार सुनिश्चहित किया जा सकेगा।प्रधानाचार्य ने सेवा गुणवत्ता सम्बन्धी फ़ीड्बैक अगले 15 दिनों में प्रारूप तैयार करने व 2 महीनों में एक मोबाइल ऐप बनाने का आश्वासन दिया।
इस दौरान परिसर के सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का निरीक्षण किया जिसमें कुल 8 विभाग हैं। यह पिछले साल पूरा हुआ था और अब इसे कुछ दिन पहले दो विभागों ओपीडी (न्यूरोलॉजी और न्यूरो सर्जरी) के साथ शुरू किया गया था।प्रिन्सिपल मेडिकल कॉलेज ने बताया की सभी 8 विभागों की ओपीडी शुरू करने में एक से दो महीने का समय लगेगा क्योंकि उपकरणों और जनशक्ति की व्यवस्था करने की जरूरत है।इस सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में सीटी स्कैन मशीन, एमआरआई मशीन और एक्स-रे मशीन जैसे अति आधुनिक उच्च कोटि के चिकित्सा उपकरण हैं। लेकिन अब तक उनका उपयोग नहीं किया जा रहा है क्योंकि मशीन की सेटिंग और कर्मचारियों का प्रशिक्षण चल रहा है।आवश्यकताओं को देखते हुए, आयुक्त ने प्रिंसिपल को अगले एक सप्ताह में एक्स-रे मशीन शुरू करने और इस महीने के अंत तक एमआरआई और सीटी स्कैन सेवा प्रारम्भ करने के लिए कहा ताकि अधिक से अधिक लोग सेवाओं का लाभ उठा सकें।इस निरीक्षण में डॉ काला, प्रिंसिपल जीएसवीएम और मेडिकल कॉलेज के अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।


Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
उत्कृष्ट कार्य पर किए गए सम्मानित
अमृत महोत्सव के तहत शिविर लगाकर मरीजों का नेत्र परीक्षण
मुख एवं दंत रोगों के उपचार का सीएचओ को दिया प्रशिक्षण
मुख व दन्त रोगियों की स्क्रीनिंग के लिए अभियान आज से
डीएम और पूर्व विधायक ने बच्चों को पिलाई विटामिन ए की खुराक
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :