होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. दिनभर प्रयास के बाद 94 सड़कों को ही खोला जा सका
  2.      
  3. सड़कों की खोलने का लगातार प्रयास जारी
  4.      
  5. अलग अलग जिलों में बंद हुई हैं सड़कें
  6.      
  7. भारी बारिश से राज्य की 194 सड़कें बंद
  8.      
  9. उत्तराखंड में बारिश ने बढ़ाई मुश्किलें
  10.      
  11. 1 सिंम्बर से प्रदेशभर में निकाली जाएगी सैनिक सम्मान यात्रा,
  12.      
  13. सैनिकों के बच्चो के लिए हल्द्वानी में खोलेंगे जाएंगे छात्रावास
  14.      
  15. 8 हजार से बढाकर की गई 10 हजार रु पेंशन
  16.      
  17. सैकेंड वर्ल्ड वॉर की विडोज की बढ़ाई गई पेंशन
  18.      
  19. उत्तराखंड-देहरादून शौर्य दिवस पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की बड़ी घोषणा
  20.      
  21. सदर कोतवाली के हरदोई तिराहा के पास का मामला ।
  22.      
  23. कड़ी मशक्कत के बाद दमकल ने आग पर पाया काबू।
  24.      
  25. घायलों को जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती ।
  26.      
  27. आग में झुलसने से तीन मजदूर हुए घायल ।
  28.      
  29. उत्तर प्रदेश-कन्नौज अगरबत्ती फैक्ट्री में विस्फोट के साथ लगी भीषण आग ।
  30.      
  31. अपनी कार से नैनीताल घूमने आये थे पति पत्नी
  32.      
  33. हरियाणा गुड़गांव का रहने वाला है 55 वर्षीय हनुमंत तलवार
  34.      
  35. कार में पति पत्नी थे सवार, पत्नी को अस्पताल में कराया गया भर्ती
  36.      
  37. गाड़ी काटकर पर्यटक की पत्नी को निकाला बाहर
  38.      
  39. उत्तराखंड-नैनीताल कार पर बोल्डर गिरने से पर्यटक की मौत
  40.      
 
 
आप यहां है - होम  »  देश/विदेश  »  कोरोना के कारण दुनिया भर में 30 लाख लोगों की हुई मौते 15 लाख बच्चे हुए अनाथ
 
कोरोना के कारण दुनिया भर में 30 लाख लोगों की हुई मौते 15 लाख बच्चे हुए अनाथ
Updated: 7/22/2021 9:13:11 AM By Reporter-

कोरोना के कारण दुनिया भर में 30 लाख लोगों की हुई मौते 15 लाख बच्चे हुए अनाथ

हिंदुस्तान न्यूज़ एक्सप्रेस वाशिंगटन कोरोना संक्रमण ने दुनियाभर में तबाही मचाई हुई है। इस महामारी ने अब तक लाखों लोगों की जान ले ली है और लाखों बच्चे इस दौर में अनाथ भी हुए हैं। कोरोना महामारी के कारण अब तक दुनियाभर के 15 लाख बच्चों ने अपने माता-पिता या इनमें से किसी एक को खो दिया है। द लैंसेट में प्रकाशित एक नए अध्ययन में यह बात सामने आई है।
रिपोर्ट के मुताबिक, इसमें से एक लाख 90 हजार बच्चे भारत के हैं जिन्होंने कोरोना काल में अपने माता-पिता में से कोई एक, कस्टोडियल दादा-दादी या नाना-नानी को खो दिया है। इसमें कहा गया है कि कोरोना महामारी के शुरुआत के 14 महीनों में 10 लाख से ज्यादा बच्चों ने अपने माता-पिता दोनों या इनमें से किसी एक को खो दिया, जबकि बाकी 50 हजार ने उनके साथ रहने वाले दादा-दादी को इस महामारी में खो दिया है।
विशेषज्ञों का अनुमान है कि भारत में मार्च 2021 से अप्रैल 2021 के बीच अनाथालयों में बच्चों की संख्या में 8.5 गुना वृद्धि हुई है। इस अंतराल में यहां अनाथ बच्चों की संख्या 5,091 से बढ़कर 43,139 हुई है। विशेषज्ञों का मानना है कि जिन बच्चों ने माता-पिता या देखभाल करने वाले को खो दिया है, उनके स्वास्थ्य और सुरक्षा पर गहरा अल्पकालिक और दीर्घकालिक प्रतिकूल प्रभाव पड़ने का खतरा है। उन्होंने बीमारी, शारीरिक शोषण, यौन हिंसा और किशोर गर्भावस्था के जोखिम को लेकर चिंता जताई है।
यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन कोविड-19 रिस्पांस टीम के प्रमुख लेखक डॉ सुसान हिलिस ने कहा, हमारी रिसर्च में सामने आया है कि 30 अप्रैल, 2021 तक कोरोना के कारण दुनियाभर में 30 लाख लोगों की मौत हुई है जिस वजह से 15 लाख बच्चे अनाथ हुए हैं।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
राजस्थान, लद्दाख और मेघालय में भूकंप के झटकों से कोई नहीं नुकसान
काबुल एयरपोर्ट पर सैनिकों की तैनाती के नतीजे हो सकते हैं भयानक
राज की गिरफ्तारी के पश्चात रयान थारप को भी पुलिस ने किया अरेस्ट
सिद्धू ने संभाली पंजाब कांग्रेस की कमान
गर्लफ्रेंड के चक्कर में पिता ने दो बच्चों को उतारा मौत के घाट
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :