होम कानपुर कानपुर आस-पास अपना प्रदेश राजनीति देश/विदेश स्वास्थ्य खेल आध्यात्म मनोरंजन बिज़नेस कैरियर संपर्क
 
  1. कन्नौज - कन्नौज में सपा नेताओं ने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ किया भेदभावपूर्ण बर्ताव, जिससे इलेक्ट्रॉनिक एवं यूट्यूब मीडिया में आक्रोश मीडिया के साथियों ने समाजवादी पार्टी का की खबरों का किया बहिष्कार।
  2.      
  3. छिबरामऊ नगर में एक दूसरे को मिठाई खिलाकर और आतिशबाजी चलाकर मनाया गया जोर दार जश्न ।
  4.      
  5. नरेंद्र मोदी के तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने को लेकर हुआ जश्न ।
  6.      
  7. भाजपा नेताओं ने जमकर चलाई आतिशबाजी
  8.      
  9. पटाखे और मिठाई खिलाकर लोगों ने दी एक दूसरे को बधाई
  10.      
  11. कन्नौज --पीएम मोदी के तीसरी बार शपथ लेने को लेकर कन्नौज में जोरदार जश्न
  12.      
  13. कन्नौज - निर्माणाधीन मकान ओर चला प्रशासन का बुलडोजर। ग्राम समाज की जमीन पर अवैध निर्माण का आरोप। निर्माण को जायज बता अफसरों से भिड़ी मकान बनवा रही महिलाएं। पुलिस फोर्स की मौजूदगी के चलते बुलडोजर ने ध्वस्त किया निर्माण। एसडीएम तिर्वा बोले रुकावट डालने वालों पर होगी कार्यवाही। इंदरगढ़ के खेमपुर्वा में हो रहा था अवैध निर्माण।
  14.      
  15. कन्नौज - ट्रैक्टर की टक्कर से साइकिल सवार महिला की हुई मौत। जिला अस्पताल में इलाज के दौरान महिला ने तोड़ा दम, पति घायल। पति के साथ किसी काम से बाजार जा रही थी मृतका। सदर कोतवाली क्षेत्र के गोवर्धनी तिराहे के पास हुआ हादसा। मृतका भगतगढ़ गांव की 50 वर्षीय सोनी देवी। पुलिस ने दोनों को जिला अस्पताल पहुंचा परिजनों को दी हादसे की जानकारी।
  16.      
  17. कन्नौज - चलती कार में अचानक आगे के हिस्से में लगी आग। लग लगते ही कार चालक ने गाड़ी किनारे रोक सभी सवारों को उतारा। थोड़ी ही देर में धू धूकर जल गयी पूरी कार। तालग्राम थाना क्षेत्र के लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे पर हुआ हादसा। प्रतापगढ़ के कपिल परिवार के साथ आगरा जा रहे थे घूमने। यूपीडा कर्मियों ने टैंकर से पानी डाल बुझायी आग।
  18.      
  19. कन्नौज - चलती कार में अचानक आगे के हिस्से में लगी आग। लग लगते ही कार चालक ने गाड़ी किनारे रोक सभी सवारों को उतारा। थोड़ी ही देर में धू धूकर जल गयी पूरी कार। तालग्राम थाना क्षेत्र के लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे पर हुआ हादसा। प्रतापगढ़ के कपिल परिवार के साथ आगरा जा रहे थे घूमने। यूपीडा कर्मियों ने टैंकर से पानी डाल बुझायी आग।
  20.      
  21. कन्नौज - बंद मकान का ताला तोड़ लाखों की चोरी। पीड़ित परिवार बच्चों की छुट्टियां मनाने गया था गांव। सुबह ताले टूटे देख पड़ोसियों ने दी चोरी की सूचना। सदर कोतवाली क्षेत्र के नसरापुर गांव के आर्यन अवस्थी का घर बना चोरों का निशाना। लाखों की चोरी की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस। फॉरेंसिक टीम ने भी मौके पर पहुंच की पड़ताल। चोरी करते चेहरा ढंके दो चोर सीसीटीवी कैमरे में हुये कैद।
  22.      
  23. कन्नौज - सेवा संकल्प दिवस के रूप में मना व्यापारी नेता संदीप बंसल का जन्मदिन। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष है बंसल। जिले के व्यापारी नेताओं ने गरीब मरीजों को फल वितरित कर मनाया जन्मदिन। जिला अस्पताल में फल सहित दवाइयां व ब्रेड मक्खन किया वितरित। व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष अनिल गुप्ता की अगुवाई में हुआ वितरण। जिलाध्यक्ष बोले व्यापारी हितों के लिये हमेशा आगे रहते राष्ट्रीय अध्यक्ष।
  24.      
  25. कन्नौज - सोशल मीडिया के जरिये सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने वाला गिरफ्तार। फर्जी नाम और फोटो लगाकर भड़काऊ पोस्ट की थी सोशल मीडिया पर वायरल। वैश्य समाज के सर धड़ से अलग करने की दी थी धमकी। भाजपा ने वायरल पोस्ट को लेकर किया था कोतवाली का घेराव। पुलिस की साइबर टीम ने सोशल मीडिया कंपनी की मदद से की माहौल बिगाड़ने वाले कि शिनाख्त। आज उसे गिरफ्तार कर पुलिस ने भेजा जेल। गुरसहायगंज के दारा सराय का है आरोपी अयान।
  26.      
  27. बड़ी घटना के इंतजार में छिबरामऊ पुलिस,पीड़ितों का आरोप,छिबरामऊ कोतवाली क्षेत्र के कल्यानपुर गांव का मामला।
  28.      
  29. डीजे की धुन पर हुए विवाद में छिबरामऊ पुलिस ने ईंट उठाये एक पक्ष पर लिखा मुकदमा,विवाद में खुलेआम फायरिंग करने वाला पुलिस को नही आया नजर उसको बक्शा
  30.      
  31. कन्नौज - छिबरामऊ में अपराधी बेखौफ,स्थानीय पुलिस की मेहरबानी से बदमाशो का बोलबाला,मामूली बात डीजे की धुन से नाराज बदमाश ने खुलेआम तमंचे से झोंका फ्रायर,खुलेआम फायरिंग कर रहे बदमाश पर कोतवाली पुलिस मेहरबान,
  32.      
  33. कन्नौज-कन्नौज में अखिलेश यादव अजेय जीत का प्रमाणपत्र पाकर अखिलेश यादव बोले, कन्नौज की जनता का आभार। कन्नौज समाजवादी पार्टी कार्यालय से सड़क तक समर्थकों का सैलाब, ढोल नगाड़ों के साथ जमकर मचा जश्न।
  34.      
  35. कन्नौज-कन्नौज सपा प्रमुख अखिलेश यादव कन्नौज से निर्वाचित सांसद का प्रमाण पत्र लेने पहुंचे हैं। इस दौरान शहर में जगह-जगह उनका जोरदार स्वागत किया गया। कलक्ट्रेट में डीएम ने अखिलेश यादव को प्रमाण पत्र सौंपा है। बता दें कि इत्रनगरी से ही सियासी कॅरियर का आगाज करके जीत की हैट्रिक लगाने वाले सपा मुखिया अखिलेश यादव 15 साल बाद फिर से इत्रनगरी से लौटे और जीत का चौका लगा डाला।
  36.      
  37. बनारस से पीएम नरेंद्र मोदी की जीत। 1,52,513 वोटों से विजेता।,वायनाड केरल से राहुल गांधी की बडी जीत। 3,64,422 वोटो से विजेता।
  38.      
  39. कन्नौज - 42,सपा अखिलेश यादव -621984,भाजपा - सुब्रत पाठक - 454162,बसपा - इमरान जफ़र - 77463 ,आगे सपा अखिलेश यादव - 167822
  40.      
 
 
आप यहां है - होम  »  स्वास्थ्य  »  आरबीएसके की मदद से हिमांश को मिला नया जीवन
 
आरबीएसके की मदद से हिमांश को मिला नया जीवन
Updated: 6/6/2024 4:41:00 PM By Reporter- rajesh kashyap kanpur

आरबीएसके की मदद से हिमांश को मिला नया जीवन
*कल्याणपुर सीएचसी के आरबीएसके टीम की मदद से जन्मजात विकृति से मिली मुक्ति
*जन्मजात गंभीर बीमारी होती है न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट
हिंदुस्तान न्यूज़ एक्सप्रेस कानपुर कल्याणपुर ब्लॉक के गाँव तुन्ना निवासी धर्मेंद्र सिंह के पांच माह के बच्चे हिमांश को राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरबीएसके) की मदद से लखनऊ स्थित राम मनोहर लोहिया जिला चिकित्सालय में नया जीवन मिला है । योजना के तहत जिले में हिमांश के न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट की सफल सर्जरी हुई है । चरगांवा कल्याणपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) की टीम की मदद से बच्ची को इस जन्मजात विकृति से मुक्ति मिली ।
पेशे से मजदूर धर्मेंद्र बताते हैं  कि दिसंबर 2023 में हिमांश का जन्म शहर में स्थित अस्पताल में हुआ, जन्म की सबको खुशी तो थी लेकिन पीठ पर उभरे फोड़े ने सबकी खुशी छीन ली। निजी अस्पताल में तुरंत दिखाया गया लेकिन डॉक्टर ने ऑपरेशन के लिए रुपये मांगे । साथ ही यह भी बताया कि यह ऑपरेशन जोखिम भरा होता है । यह सुन कर हम लोग डर गये और इलाज नहीं कराया। बच्ची के बड़े होने के साथ साथ यह टुकड़ा बढ़ता गया। कई लोग ताना भी मारने लगे। 
धर्मेंद्र ने बताया कि मार्च 2023 में आरबीएसके टीमगांव आई थी । गांव की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता उमा ने बताया कि मेडिकल टीम आई है । बच्ची को वहां लेकर गये तो चिकित्सक ने हिमांश को देखा और कल्याणपुर सीएचसी बुलाया । तत्पश्चात डीईआईसी प्रबंधक कानपुर नगर ने समस्त दस्तावेजों का पूर्ण कराकर बच्चों को उपचार हेतु डॉ राम मनोहर लोहिया में भेजा I
वहां जाने के बाद आरबीएसके टीम ने इलाज की पूरी प्रक्रिया बतायी। सभी दस्तावेजों को जमा करने के बाद टीम द्वारा लखनऊ के राम मनोहर लोहिया जिला चिकित्सालय भजा गया। वहां डॉक्टर ने एमआरआई कराने को कहा । अप्रैल में एमआरआई हुई और उसके बाद 3 मई को बच्ची को कॉलेज में भर्ती किया गया । सर्जरी के एक सप्ताह बाद बच्ची का टांका काटा गया । अब पीठ सामान्य है और उसे दर्द भी नहीं होता है । पीठ पर जब मांस था तो थोड़ी सी भी चोट लगने पर दर्द होने लगता था ।
योजना के नोडल अधिकारी व एसीएमओ डॉ सुबोध प्रकाश का कहना है कि न्यूरल ट्यूब जैसी विसंगति बच्चों के लिए बहुत खतरनाक होती है उनकी जान और उम्र भर की अपंगता का डर बना रहता है। महिलाओं में फॉलिक एसिड की कमी के चलते उनके गर्भ में पल रहे बच्चों को न्यूरल ट्यूब डिफ़ेक्ट डेफेक्ट जैसी विसंगति से जूझना पड़ता है। हैं।  इस तरह की विसंगति से अपने बच्चो को बचाने के लिए महिलाएं गर्भावस्था के समय आयरन फॉलिक एसिड की गोलियां जरूर लें। अभी तक इस विसंगति से पीड़ित जो भी बच्चे पहचान में आए उन सभी का सफल ऑपरेशन कराया गया।
शिक्षक, आशा और आंगनबाड़ी की लें मदद
योजना के डीईआईसी मैनेजर अजीत सिंह ने बताया कि जिले के प्रत्येक सरकारी स्कूल व आंगनबाड़ी केंद्र पर आरबीएसके टीम जाती हैं । टीम 48 प्रकार के बीमारियों के लिए स्क्रीनिंग करती है । नोडल अधिकारी डॉ सुबोध प्रकाश  के दिशा निर्देशन में गंभीर बीमारियों के चिन्हित बच्चों को जिले से बाहर भेज कर भी इलाज कराया जा रहा है । सुविधा का लाभ लेने के लिए सरकारी स्कूल के शिक्षक, आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के जरिये मदद लेनी चाहिए ।
न्यूरल ट्यूब डेफेक्ट क्या हैं?
डीईआईसी मैनेजर ने बताया की यह दिमाग, स्पाइनल कॉर्ड और रीढ़ की हड्डी की जन्मजात विकृति हैं। यह तब दिखता हैं जब दिमाग और रीढ़ की हड्डी में ऐसा विकार बन जाए कि यह पूर्ण रूप से बंद होने में विफल हो जाए। न्यूरल ट्यूब डेफेक्ट गर्भावस्था के पहले 5 हफ्तों में ही हो जाता हैं। तथा यह बहुत गंभीर जन्मजात रोग हैं। अगर इसके इलाज की शुरुआत बच्चे के जन्म के 24 घंटे के अंदर न हो तो बच्चे की मृत्यु भी हो सकती हैं। अगर बच्चे को इलाज़ मिला तो वह बच सकता हैं। अगर बच्चे का सही समय पर इलाज़ न हुआ और तब भी जान बच गई तो वह विभिन्न प्रकार की शारीरिक अथवा मानसिक विकलांगता का शिकार हो सकता हैं।
न्यूरल ट्यूब डेफेक्ट दो प्रकार का होता हैं
1-स्पाइना बाईफिडा में ट्यूब गर्भावस्था के पहले महीने में बंद नहीं होती हैं अतः आंतरिक अंग शरीर के बाहर दिखाई देते हैं। यह सूजन सिर के पीछे के भाग में अथवा रीढ़ की हड्डी में किसी भी स्थान पर हो सकती हैं। समय पर सर्जिकल इंटरवेन्शन हो जाने पर बच्चे की जान बचायी जा सकती हैं।
2-एन एन के फैली में अधिकांश दिमाग विकसित नहीं होता हैं। इसमें या तो बच्चे जन्म के बाद मर जाते हैं या तो मृत बच्चा जन्म लेता हैं।
न्यूरल ट्यूब डेफेक्ट कैसे पहचाने?
1-ढूँढे सूजन (गांठ) कहाँ हैं। ज़्यादातर वह सिर या पीठ पर होगी।
2-उभार का रंग, आकार देखना चाहिए।
3-ढूँढे कि सूजन से कोई स्राव/रक्तश्राव तो नहीं हो रहा।
4-देखे कि बच्चे के पैर ठीक से काम करते हैं या नहीं।
5-यह भी देखे कि उसको पखाना हो रहा हैं या नहीं।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
ब्लॉक सरसौल में स्थापित हुआ पहला मातृ एनीमिया प्रबंधन कार्नर
यूपीयूएमएस में मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस
पावर ग्रिड के सीआरएस फंड से बनेगाहैलट में बनेेगा प्रदेश का पहला डायन्गोस्टिक लैब हब
लीवर ट्रांसप्लांट के बाद एक नया जीवन: सामान्य जीवन की एक और शुरुआत
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर महिलाचिकित्सालय में गर्भवतियों को कराया जा रहा योग का अभ्यास
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Hindustan News Express | Privecy policy | Disclimer Powered By :